मुन्ना बजरंगी हत्या मामले में कार्रवाई जेलर समेत 4 लोग निलंबित, एडीजी ने मामला जेल प्रशासन की बड़ी चूक

बागपत – उत्तर प्रदेश के कुख्यात माफिया मुन्ना बजरंगी की सोमवार को बागपत जेल में गोली मारकर हत्या कर हो गई। एडीजी जेल चंद्र प्रकाश ने कहा कि सुबह 6 बजे बागपत जेल के अंदर झगड़े के दौरान मुन्ना बजरंगी को गोली मार दी गई। बताया जा रहा है कि सुनील राठी नाम के युवक ने मुन्ना बजरंगी को गोली मारी इसके बाद उसने हथियार को गटर में फेंक दिया।

एडीजी जेल ने कहा कि ये घटना जेल की सुरक्षा में गंभीर चूक है, मामले में जेलर उदय प्रताप सिंह, डिप्टी जेलर शिवाजी यादव, हेड वार्डन अरजिन्दर सिंह, वार्डन माधव कुमार को निलंबित कर दिया गया है। पूरी घटना की न्यायिक जांच होगी, वहीं शव का पोस्टमार्टम डॉक्टरों के पैनल के साथ वीडियो रिकॉर्डिंग में होगा।

उन्होंने कहा कि मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को सूचित कर दिया गया, पोस्टमॉर्टम एनएचआरसी के दिशा-निर्देश में होगा, वहीं पूरे मामले की जांच के लिए टीमें पहुंच चुकी हैं।