तालाब में डूब कर दो सगे नाबालिग भाइयो की मौत

लखनऊ: काकोरी में तालाब में नहा रहे दो सगे नाबलिग भाइयो की डूब कर मौत हो गयी। दोनों भाई साइकिल से गांव के बाहर घूमने गये थे । तभी खेल खेल में गांव में बने छोटे तालाब में नहाने लगा जहां डूब कर दोनों की मौत हो गयी। तालाब में उतराते हुए शव को देख कर ग्रामीणो को जानकारी हुई ।बचाने के लिए ग्रामीण भागे । ग्रामीणो ने दोनों के शव बाहर निकाले। ग्रामीणो की सूचना पर रोते बिलखते हुए परिजन मौके पर पहुँचे । परिजनों ने पोस्ट मॉर्टम कराने से मना कर दिया। जिसके बाद बच्चो का गांव में अंतिम संस्कार कर दिया गया ।
डम्बर खेंड़ा गांव निवासी किसान मिथलेश यादव के दो बेटे अंश यादव 9, वंश यादव थे। वही  तीसरा करीब 5 माह का बेटा का है। मिथेलश की पत्नी राधा गृहणी है। इसी वर्ष अंश यादव व वंश यादव का प्रवेश गांव के ही प्राथमिक विद्यालय बड़ागांव में हुआ था। रविवार को दोनों बेटे अंश व वंश  दोपहर में घर से साइकिल चलाने के बहाने निकले थे। साइकिल चला कर दोनों बड़ा गांव पहुचे थे। यही वापसी के समय आँगन बाड़ी केंद्र भवन के पास बबुरी खेंड़ा शिव मंदिर के पास बने छोटे तालाब में दोनों भाई नहाने लगे। जिसमे दोनों की डूब कर मौत हो गयी ।जब ग्रामीणो ने तालाब में शव को उतराते हुए देखा तब घटना की जानकारी हुई। शव देख कर ग्रामीण बचाने का प्रयास किया। आनन फानन में दोनों के शव को तालाब के बहार निकाला  ।लेकिन तब दोनों की मौत हो गयी थी। घटना की जानकारी परिजनों को दी। दोनों बच्चों की मौत की खबर सुनकर घर व गांव में हड़कंप मच गया। रोते चिल्लाते परिजन तालाब की ओर भागे  । तालाब के पास ग्रामीणो का मजमा लग गया ।।ग्रामीणो ने परिजनों के साथ दोनों बच्चो के शव को उठा कर घर पर ले गए । सूचना पर मौके पर पुलिस पहुँची ।ग्राम प्रधान देश राज यादव ने बताया कि परिजनों ने आपसी सहमति से पोस्ट मार्टम के लिए मना कर दिया । जिसके बाद गांव में शाम में दोनों बच्चों का अंतिम संस्कार कर दिया गया ।इंस्पेक्टर संजय कुमार ने बताया कि परिजनों ने थानां पर कोई भी सूचना नही दी है ।जिससे कार्रवाई नही हुई है।
ग्रामीणो ने बताया दोनों बच्चे पहले ही सबसे नमस्कार करते थे। और अभी जल्दी ही साइकिल चलाना सीखा था  । जिस तालाब में डूबे है वो ज्यादा गहरा नही है। एक जगह पर थोड़ा सा गहरा है जहाँ पर ही दोनों की डूब कर मौत हुई है ग्रामीणो में गहरा शोक है।